प्रत्येक काम का एक समय

परमेश्वर के पास भी एक घड़ी है जो जगत की उत्पत्ति के आरम्भ से बल्कि भुतकाल के अनंत से-अज्ञात समय से वर्त्मान तक चल रही है? हमारे जीवनों को हम परमेश्वर घड़ी के अनुसार ढालें? यह महत्वपूर्ण है कि हम सीखें कि यह कैसे करना है। यह पुस्तक व्यक्तिगत रुप से परमेश्वर के समय को हमें पहचानने और समझने में सहायक होगी।